आखिर दो वर्ष बाद टोकस पातन वासियों को मिला पुल का तोहफा : दुष्यंत चौटाला ने किया उद्घाटन

16th August 2017 | jansandesh.in

प्रशासनिक स्तर पर दो वर्ष की लंबी जद्दोजहद और अधिकारियों के टरकाऊ रवैये के बावजूद आखिर टोकस-पातन गांव वासियों को पुल का तोहफा मिल ही गया। सांसद दुष्यंत चौटाला ने इस पुल का उद्घाटन किया। इस पुल का निर्माण सांसद निधि कोष से 14 लाख 86 हजार की कीमत से किया गया है। यह ब्रिज के बनने से गांव टोकस-पातन, मुकलान, धीरणवास, आर्य नगर व रावलवास खुर्द के ग्रामीणों को लाभ होगा। नहर पर पुल न होने के कारण उक्त गांव के लोगों को लंबा रास्ता तय कर अपने गतंव्य स्थान तक जाना पड़ता था। यह पुल बनने से ग्रामीणों के लिए कई किलोमीटर का सफर कम हो गया है। गांव वासियों की इस नहर पर पुल बनाने की लंबे समय से मांग थी।

सांसद दुष्यंत चौटाला ने चुनाव से पहले इन गांवों के दौरों के दौरान पुल बनाने का वायदा किया था।सांसद बनने के बाद दुष्यंत ने अपना वायदा पूरा करते हुए अस्टीमेट अनुसार सांसद निधि कोष से राशि जारी कर दी परन्तु प्रशासनिक स्तर पर इस पुल बनाने पर कई अड़चने लगाई गई और अधिकारियों ने लगातार टाल-मटोल का रवैया अपनाए रखा। सांसद दुष्यंत चौटाला पीछे नहीं हटे और अधिकारियों हर बैठक में इस पुल का अपडेट लेते रहे। अब यह पुल बन कर तैयार हो गया और सांसद दुष्यंत चौटाला ने इसे गांवासियों को समर्पित कर दिया। इस दौरान सांसद के साथ जिला प्रधान राजेंद्र लितानी, विधायक रणबीर गंगवा, विधायक अनूप धानक, विधायक वेद नारंग, हलका प्रधान सतपाल सरपंच, युवा जिला प्रधान अमित बूरा, शहरी प्रधान राजेंद्र चुटानी, अनूप धनखड़, टोकस सरपंच प्रतिनिधि राजेश घोसला, धीरवास सरपंच जयसिंह, सरपंच ईश्वर सिंह, पूर्व सरपंच रिसालसिंह, सरपंच राजेश जाखड़, धर्मसिंह घोसला सहित अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे। 



अन्य ख़बरें