जीएसटी लगाकर सरकार ने किया जनता को परेशान: अभय चौटाला

9th August 2017 | jansandesh.in

नेता प्रतिपक्ष अभय सिंह चौटाला ने कहा कि सरकार ने जीएसटी लगाकर आम आदमी से लेकर मजदूर, गरीब व व्यापारी तथा किसान सभी की कमर तोडऩे का काम किया है। जीएसटी सेे सभी आवश्यक वस्तुएं सस्ती होने की बजाए महंगी होती जा रही हैं। वह मंगलवार देर शाम को जनसंपर्क अभियान के तहत फतेहाबाद के जवाहर चौक में एक जनसभा को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि सरकार जीएसटी लागू करके सभी वस्तुओं के सस्ता होने का ढिंढ़ोरा पीट रही है, लेकिन ऐसा हुआ नहीं। सरकार ने जीएसटी को लागू करने में जल्दी दिखाई, जिसके परिणाम यह आए हैं कि अब हर वस्तु महंगी हो चली है। इस अवसर पर अनेक नेताओं ने अभय सिंह चौटाला का स्वागत कर उनको सम्मान जनक पगड़ी व शॉल भेंट की।

उन्होंने कहा कि अगर सरकार ने लोगों को राहत ही देनी थी तो वह पेट्रोल व डीजल को भी जीएसटी के अंदर लेती। अगर पेट्रोल व डीजल पर जीएसटी लगती तो यह काफी सस्ते हो जाते और आम जनता को काफी लाभ मिलता। कभी भाजपा सरकार नोटबंदी करके लोगों को कतारों में लगा देती है तो कभी जीएसटी लागू करके लोगों की कमर तोड़ रही है। यह सरकार जनता के भले के नहीं है, बल्कि देश व प्रदेश की जनता को परेशान करने के लिए बनी है। उन्होंने कहा कि पहले लोग कहते थे कि भाजपा पार्टी व्यापारियों की पार्टी है, लेकिन अब यही भाजपा सरकार व्यापारियों को लूटकर खाने को उतारू हो गई है।उन्होंने कहा कि वर्तमान भाजपा सरकार केवल घोषणाओं की सरकार बनकर रह गई है। सरकार घोषणाएं तो बड़ी बड़ी कर रही है, लेकिन काम कहीं पर नहीं हो रहे। भाजपा के नेता तो सत्ता के नशे में चूर होकर आम जनता को परेशान करने में जुटे हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा नेताओं के बेटे लड़कियों से सरेआम छेड़छाड़ कर रहे हैं, और पूरी सरकारी मशीनरी ऐसे लोगों को बचाने में जुटी हुई है। उन्होंने कहा कि देश और प्रदेश की सरकार ने किसानों के लिए कोई नीति नहीं बनाई। जिसके चलते किसानों को अपनी फसलों को उचित मूल्य नहीं मिल पा रहा। सरकार ने स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट लागू न करके किसानों के साथ बहुत बड़ा धोखा किया है। उन्होंने कहा कि देश ओर प्रदेश में किसान का कर्ज पहले भी ताऊ देवीलाल ने माफ किया था और अब भी इनेलो की सरकार आने पर ओम प्रकाश चौटाला द्वारा किया जाएगा। 


मौजूदा सरकार ने चुनाव के समय जो भी वायदे किए उनमें से एक भी वायदे पर खरी नहीं उतरी और मात्र घोषणाओं की सरकार बनकर रह गई है। देश व प्रदेश में की जनता सरकार की गलत नीतियों से पूरी तरह से तंग है। उन्होंने कहा कि इनैलो द्वारा प्रदेश में एस.वाई.एल. का पानी लाने के लिए आंदोलन शुरू किया है। अगर जल्द ही सरकार द्वारा इस बारे में कोई ठोस कदम नहीं उठाए गए तो 25 सितम्बर को देवीलाल की जयंती पर होने वाले सम्मान समारोह में इनेलो द्वारा कड़ा निर्णय लिया जाएगा। उन्होंने कहा की भाजपा सरकार ने कोई भी विकास कार्य नहीं किया है। पहले तो सरकार ने आते ही नोटबंदी लगाकर आम जनता को बैंको की कतार में लगा दिया है। 

इस अवसर पर प्रदेश प्रवक्ता स.निशान सिंह, विधायक बलवान सिंह दौलतपुरिया, रविन्द्र बलियाला, राष्ट्रीय सचिव युद्धवीर सिंह आर्य, जिला प्रधान बलविन्द्र सिंह कैरों, कुलजीत सिंह कुलडिय़ा, शहरी प्रधान पवन चुघ, सरोज सांगा, विद्या रत्ति, सुमनलता सिवाच, बलदेव बजाज, दलीप कथूरिया, अशोक बाघला, नीरज सेठी, वेद नारंग, डा.मनोहर मैहता, भीमसैन आनन्द, हंसराज कटारिया, कुलभूषण गोयल, राजेन्द्र सूरा, पंकज झाझड़ा, केएस बिट्टा, कुलवंत सवणा, गोपाल शर्मा, गुलाब सूण्डा, लक्ष्मीनारायण देहड़ू, विकास मैहता, अमित गर्ग,  दीपक मैहता, मनोज मैहता, अजय संधू बीराबदी, राणा जोहल, रवि गढ़वाल, विनोद बजाज, यशपाल यश तनेजा, योगेश जिंदल, हरपाल बीघड़, राजू सोनी, विनीत बिश्रोई, चतर सिंह, रामलाल सरदाना, रमेश मैहता, राजू सरदाना, रोहित मदान, कुश गेरा, गुरदीप सिंह बग्गा, सन्नी खुराना, सतेन्द्र श्योराण सहित अनेक इनेलो नेता व कार्यकत्र्ता मौजुद थे।
 



अन्य ख़बरें